एवोकाडो क्या है इसको खाने के फायदे | Avocado in Hindi

कुछ फल ऐसे होते हैं जो अपने देश ज्यादा दूसरे देशों में ज्यादा प्रचलित होते हैं. एवोकाडो भी एक ऐसा फल है जो हमारे देश में कम लोकप्रिय है बल्कि इसका सेवन विदेशी लोग ज्यादा करते हैं. एवोकाडो का सेवन करने से शरीर स्वस्थ और कई बिमारियों से लड़ने में फायदेमंद होता है.

एवोकाडो को सुपर फूड में की लिस्ट में शामिल किया जाता है. जो खाने में मक्खन जैसा होता है, इसलिए इसे बटर फ्रूट के नाम से भी जाना जाता है.आज के इस पोस्ट में हम एवोकाडो क्या है (Avocado in Hindi) और इसके फायदे के बारे में विस्तार से जागेगे.

विषय सूची

एवोकाडो क्या है – Avocado Meaning in Hindi

avocado meaning in hindi

एवोकाडो एक प्रकार का बड़ी बेरी फल है जिसके अंदर बेर के आकार का बीज मौजूद रहता है.एवोकाडो बाहर से गहरे हरे रंग का होता है वही इसके अन्दर का भाग पीला रंग का होता है. खाने में इसका स्वाद नमकीन और खट्टा मीठा लगता है.एवोकाडो का वैज्ञानिक नाम पर्सिया अमरीकाना है वही एवोकाडो को हिंदी में (Avocado in Hindi Name) रुचिरा कहा जाता है.

एवोकाडो की उत्पत्ति लगभग सात हजार वर्ष सबसे पहले दक्षिणी मैक्सिको और कोलंबिया में हुई थी.भारत में एवोकाडो की खेती दक्षिण भारत के तमिलनाडु, केरल और कर्नाटक रोज्यों में की जाती है. इसके पेड़ की लम्बाई लगभग 65 फिट होती है, वही एवोकाडो फल अन्य फलों की तरह पेड़ में नहीं पकते हैं बल्कि इसे कच्चा तोड़कर पकाया जाता है जैसे केले को पकाया जाता है.

एवोकाडो के फायदे – Avocado Ke Fayde

एवोकाडो में कई प्रकार के पोष्टिक तत्त्व पाए जाते हैं जिसका सेवन करने से सेहत, स्वास्थ्य और त्वचा से संबंधित कई फायदे होते हैं.यदि आप एवोकाडो के चमत्कारी फायदों से अनजान हैं तो चिंता करने की कोई जरुरत नहीं हैं क्यूकि आज हम इस पोस्ट में  इससे फायदों से भली भाति अवगत कराने जा रहे हैं.

1 एवोकाडो का इस्तेमाल मधुमेह को नियत्रण करने में

मधुमेह एक ऐसा रोग है जिसमे पीड़ित के शरीर में ग्लूकोज का स्तर बहुत बढ़ जाता है. ज्यादा ग्लूकोज की मात्रा बढ़ने से शरीर को कई परेशानियाँ होने लगती है जैसे वजन बढ़ना, थकाना, चोट या घाव होने पर जल्दी ठीक न होना. ऐसा माना जाता है कि यदि किसी व्यकित को मधुमेह की समस्या है तो जीवन भर उस व्यकित के शरीर में सुगर की समस्या बनी रहती है.

एवोकाडो डायबिटीज मरीजो के लिए बहुत फायदेमंद होता है.एवोकाडो में फाइबर भरपूर मात्पारा में पाया जाता जो अतरिक्त रक्त में मौजूद अतिरिक्त शुगर को नियंत्रित करता है जिससे शरीर में शुगर की मात्रा संतुलित हो जाती है और डायबिटीज के रोगी को राहत मिलती है.

(और पढ़ें – शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय – Sugar Kam Karne Ke Upay)

2 एवोकाडो खाने के फायदे आँखों के लिए

आज के भागदौड भरी ज़िंदगी में ज्यादातर लोगों को आँखों की समस्या है जैसे आँखों में जलन होना, धुंधला दिखाई देना, आँखों में पानी आना. दरअसल, ऐसा होने की कुछ प्रमुख वजह हो सकती है जैसे ज्यादा कंप्यूटर या मोबाइल चलाने से , नींद पूरी न होना या शरीर में पोषक तत्वों के आभाव से. आँखे हमारे शरीर का मुख्य अंग माना जाता है इसलिए इसको स्वस्थ रखने में हमारी पहली प्राथमिकता होनी चाहिए.

एवोकाडो आँखों के लिए बहुत फायदेमंद होता है.एवोकाडो में ल्यूटिन और जेक्सैथिन जैसे कैरोटीनॉयड जैसे तत्व मौजूद होते है, जो आंखों को स्वस्थ रखने के साथ-साथ नजर कमजोर की समस्या से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं.

3 एवोकाडो करे कैंसर के खतरे को कम

कैंसर एक ऐसी जानलेवा बीमारी है जो व्यक्ति को कब हो जाए इसका कुछ पता नहीं चलता. यदि शुरुआती दौर में कैंसर का पता चल जाए तो इसको ठीक किया जा सकता है लेकिन आख़री दौर में कैंसर का इलाज करना असंभव माना जाता है. इसके अलावा कैंसर का इलाज करवाने में बहुत जायदा पैसे लगते है जो आम लोगो के बस की बात नहीं है.हमारे दैनिक जीवन में कुछ आहार का सेवन करने से कैंसर के खतरे को कम किया जा सकता है.

एवोकाडो का सेवन करने से कैंसर जैसी घातक बीमारी को हराया जा सकता है.एवोकैडो में कैरोटीनॉड्स और मोनोअनसैचुरेटेड फैट मौजूद होता है जो स्तन कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर को काफी हद तक कम करने में सक्षम होता है. इसके अलावा एवोकाडो शरीर में कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकने में मदद करता है.

4 बेहतर पाचन क्रिया के लिए करें एवोकाडो का सेवन

कब्ज एक आम समस्या है जो किसी भी उम्र के लोगो को प्रभावित कर सकता है.कब्ज की समस्या होने से शरीर में अन्य समस्याएं होने लगती है जैसे पेट दर्द,गैस, बेचैनी, जी मिचलाना इत्यादि. बीमारी कितनी ही छोटी क्यों न हो उसका तुरंत इलाज करना बहुत जुरुरी होता है नहीं तो उसके कारण अन्य बीमारियाँ होने का खतरा बढ़ जाता है.

यदि आप कब्ज की समस्या से परेशान है तो एवोकाडो का सेवन कर सकते हैं.एवोकाडो में घुलनशील और अघुलनशील फाइबर मौजूद होते है जो पाचन किया को बेहरत बनाने में मदद करते है.

(और पढ़ें – सुबह उठते ही पेट साफ होने के उपाय – Pet Saaf Karne Ke Gharelu Upay)

5 एवोकाडो के लाभ त्वचा के लिए

सुन्दर और निखरी त्वचा हर किसी को अच्छी लगती है. लेकिन इसको पाने में आपकी दिनचर्या और खानपान बहुत मायने रखती है.एवोकाडो में कई विटामिन्स और एंटीऑक्साइड तत्व पाए जाते हैं जो त्वचा को स्वस्थ और खूबसूरत बनाने में मदद करती है.एवोकाडो का इस्तेमाल कास्मेटिक सामान को बनाने में किया जाता है.

एवोकाडो का तेल हमारी त्वचा के लिए बहुत गुणकारी होता है. त्वचा की सुन्दरता बढाने के लिए एवोकाडो के तेल से मालिश कर सकते है. इसके अलावा  दही,शहद और एवोकाडो मिलाकर एक पेस्ट बना लें अब इस चेहरे पर लगाने से चेहरे की झुर्रियां हटती है और दाग धब्बे गायब होने लगते हैं.

(और पढ़ें – चेहरा साफ करने के उपाय – Gora Hone Ke Gharelu Nuskhe)

6 हृदय को स्वस्थ बनाने में एवोकाडो के लाभ

ख़राब जीवन शैली और गलत खान-पान के करना हृदय रोग होने का खतरा बढ़ जाता है.एक शोध के अनुसार यह बात सामने आयी है कि ह्रदय रोगियों की संख्या दिन प्रतिदिन बहुत तेजी से बढ़ रही है.अच्छा आहार और रोजाना व्यायाम करने से हृदय को स्वस्थ रखा जा सकता है.एवोकाडो का सेवन करने से ह्रदय स्वस्थ और दिल के दौरे की समस्या से राहत मिलता है. एवोकाडो में बीटा-सिटेस्टेरोल नामक तत्त्व पाया जाता है जो हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने और हृदय रोग से संबंधित खतरे को कम करने में मदद करता है.

7 एवोकाडो के गुण करें मुंह की दुर्गन्ध दूर

मुंह की दुर्गन्ध एक गंभीर समस्या होती है जिसकी वजह से व्यक्ति का आत्मविश्वास भी डगमगा जाता है और कई बार शर्मिन्दगी का सामना करना पड़ता है.मुंह की बदबू आने के कई कारण हो सकते हैं जैसे धूम्रपान,मसूडो की बीमारी,दांतों साफ न होना या पेट में गड़बड़ी के कारण. वजह कोई भी हो लेकिन मौखिक स्वस्थ बनाये रखने के लिए मुंह की दुर्गन्ध दूर करना बहुत आवश्यक होता है.

एवोकाडो का सेवन करने से मुंह की बदबू को दूर किया जा सकता है.एवोकैडो में जीवाणुरोधी और एंटीऑक्सिडेंट फ्लैनोनोइड तत्त्व पाए जाते है जो आपके मुंह में स्थित जीवाणुओं को मरने में सक्षम होते है जिससे मुंह की बदबू दूर हो जाती है.

8 एवोकाडो है आर्थराइटिस रोग में लाभकारी

आर्थराइटिस को गठिया रोग भी कहा जाता है जिसमें रोगी के जोड़ो में असहनीय दर्द उठता है.  ज्यदातर गठिया रोग 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगो में देखने को मिलता है वही पुरुषो की अपेक्षा महिलायों को यह रोग ज्यादा चपेट में लेता है.गठिया की शुरुआत सबसे पहले पैर से होती है, फिर धीरे-धीरे शरीर के अन्य हिस्से कोहनी, घुटने, हाथों की अंगुलियों के जोड़ों और टिशु में हो जाता है.

एवोकाडो का सेवन करने से गठिया रोग से पीड़ित व्यक्ति को राहत मिलती है. एवोकाडो में फाइटोकेमिकल्स, फ्लेवोनोइड, कैरोटीनोइड, फिटोस्टरोल, फैटी अल्कोहल और ओमेगा -3 फैटी एसिड समेत कई तत्त्व पाए जाते हैं जो जोड़ों और मांसपेशियों की सूजन को कम करने में असरदार होते है.

9 एवोकाडो खाने के फायदे वजन कम करने में

जब व्यक्ति का शरीर आवश्यकता से अधिक फ़ैल जाता है तो उसे मोटापा कहते हैं.मोटापा एक गंभीर समस्या है जिसकी वजह से शरीर में कई परेशानिया होने लगती है जैसे सुस्ती, थकान, मधुमेह,दिल की बीमारी इत्यादि. मोटापे से निपटने के लिए आपको सही जीवनशैली अपनाने की जरुरत होती है.

मोटापे से परेशान लोगो को अपने आहार में एवोकाडो का सेवन करना चाहिए.एवोकाडो में मौजूद फाइबर पाचन क्रिया को मजबूत करने के साथ- साथ वसा के अवशोषण को कम करने में मदद करता है. इसके साथ ही इसमें मौजूद मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड जो फैट को कम करने में असरदार होता है. इससे मोटापे को कम करने में बहुत मदद मिलती है.

(और पढ़ें – बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपाय – Pet Kam Karne Ke Upay)

10 एवोकाडो करता है हड्डियों को मजबूत

हड्डियां हमारे शरीर को सही आकार देने के साथ साथ कार्य करने की शक्ति प्रदान करती है. इसलिए जितनी मजबूत आपके शरीर की हड्डियां होगी उतना ही आप शरीर चुस्त और दुरुस्त रहेगा.गलत जीवनशैली और पोषक तत्वों की कमी के कारण कई लोगो की हड्डियां कमजोर हो जाती है जिससे वो ज्यादा भारी भरकम को उठाने में सक्षम नहीं होते.

हड्डियों को स्वस्थ और मजबूत बनाने के लिए कच्चे एवोकाडो का सेवन किया जा सकता है.कच्चे एवोकाडो में बोरॉन नामक तत्त्व मजूद होता है जो कैल्शियम के अवशोषण को बढ़ाकर हड्डियों को मजबूत बनाने में लाभकारी होता है.

11 एवोकाडो के फायदे लिवर स्वस्थ रखने में

लिवर शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंगो में से एक माना जाता है. स्वस्थ शरीर पाने के लिए लिवर का स्वस्थ होना बहुत जरुरी होता है.लिवर हमारे शरीर की महत्वपूर्ण गतिविधियों को नियंत्रित करता है जैसे भोजन पचाने में, भोजन से प्राप्त ऊर्जा को शरीर के बिभिन्न अंगो में वितरण करने में मदद करना इत्यादि. स्वस्थ जीवनशैली और सही खान पान करने से लिवर स्वस्थ रखने में मदद मिलती है.

लिवर स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने में एवोकाडो फल बहुत लाभकारी माना जाता है.एवोकाडो में मौजूद नॉन एल्कोहलिक फैटी लिवर की समस्या को दूर करने में लाभकारी होते हैं.

(और पढ़ें – लिवर की गर्मी दूर करने के उपाय – Liver Ki Garmi Ka Ilaj)

12 एवोकाडो का प्रयोग किडनी को स्वस्थ रखने में

किडनी हमारे शरीर का महत्वपूर्ण अंग होता है जो खून को साफ करता हैं और ख़राब चीजों को पेशाब के द्वारा शरीर से बाहर निकलने में मदद करता है.ख़राब जीवनशैली और अस्वस्थ खान-पान के कारण कई लोगो की किडनी ख़राब हो जाती है जिससे विषैले तत्व बाहर नहीं निकल पाते और शरीर में कई बीमारियाँ हो जाती है जैसे पेशाब करते समय जलन या दर्द.

किडनी को स्वस्थ और सुरक्षित रखने के लिए एवोकाडो फल का सेवन किया जा सकता है.एवोकाडो किडनी की क्षति को रोकने में मदद करता है और उसकी कार्य क्षमता बढाने में लाभकारी होता है.

13 एवोकाडो का सेवन करें कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण में

कोलेस्ट्रॉल एक प्रकार का वसायुक्त तत्व है, जिसका निर्माण लिवर करता है. भागदौड़ भरी ज़िंदगी में कई लोग अनहेल्दी लाइफस्टाइल जीते हैं, उसके कारण उन्हें हाई कोलेस्ट्रॉल की समस्या का सामना करना पड़ सकता है.जब रक्त में कोलेस्ट्रॉल की अधिक मात्रा बढ़ जाती है तो स्वास्थ संबंधी कई समस्याएं उत्पन्न होने लगती है. इसलिए कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करना बहुत आवश्यक होता है.

एवोकाडो का सेवन करने से बढ़े हुए कोलेस्ट्रोल को कम करने में मदद मिलती है. एवोकाडो में पाए जाने वाला पोटेशियम हाई कोलेस्ट्रॉल को कम करने में लाभदायक होता है.

14 बालों के लिए एवोकाडो के फायदे

बालों हमारे सिर का ताज होते हैं इसलिए इनको स्वस्थ और सुन्दर बनाने में हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए.बालों का सही से देख रेख न करने से बाल की जड़ें कमजोर हो जाती है और बाल झड़ने लगते हैं.बाल गिरने की सबसे प्रमुख कारण होता है डैंड्रफ और स्कैल्प में खुजली होना.बालों की हेल्दी ग्रोथ के लिए आपको स्वस्थ जीवनशैली अपनानी चाहिए.

झड़ते हुए बालों के लिए एवोकाडो को लाभकारी माना जाता है.एवोकाडो फल में विटामिन ए, बी, बी-1, बी-2, ई और सी के साथ कई अन्य आवश्यक तत्व मौजूद होते हैं जो  बालों की जड़ों को मजबूत करते है और झड़ने से रोकने में मदद करते हैं.

(और पढ़ें – बाल उगाने का तरीका – Jhadte Balon Ka Ilaj)

15 मानसिक विकास के लिए लाभकारी एवोकाडो

मस्तिस्क हमारा 24 घंटे काम करता है. सोते वक्त हमारा शरीर आराम कर लेता है लेकिन मस्तिष्क कभी आराम नहीं करता वह उस अवस्था में भी कुछ न कुछ सोचते रहता है जिसे आप सपना कहते है. आजकल भागदौड़ भरी ज़िंदगी में कम समय में ज्यादा काम करने के लिए तेज दिमाक होना बहुत आवश्यक होता है.

मानसिक विकास के लिए एवोकाडो फल बहुत उपयोगी माना जाता है.एवोकाडो में ल्यूटिन नामक तत्व मौजूद होता है, जो मानसिक विकास करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है.

एवोकाडो का उपयोग – Uses of Avocado in Hindi

एवोकाडो एक बेहतरीन फल है, जिसका सेवन प्रकार से किया जा सकता है. तो आइये जानते है कि एवोकाडो का उपयोग कैसे किया जा सकता है.

  1. सुबह के नाश्ते में ब्रेड ऑमलेट के साथ एवोकाडो का सेवन कर सकते हैं.
  2. सलाद के रूप में कच्चा एवोकाडो मिलाकर खा सकते हैं.
  3. एवोकाडो फल का जूस बनाकर सुबह खली पेट या दोपहर को पी सकते हैं.
  4. एवोकाडो आइसक्रीम बनाकर सेवन कर सकते हैं.
  5. केक, सॉस, ब्रेड के रूप में भी आप एवोकाडो का सेवन कर सकते हैं.

एवोकाडो के पौष्टिक तत्व – Nutritional Value of Avocado in Hindi

एवोकाडो देखने में नाशपाती के सामान होता है लेकिन इसमें कई  पौष्टिक तत्त्व मौजूद होते है. तो आइये हम चार्ट के माध्यम से एवोकाडो के पौष्टिक तत्वों के बारे में विस्तार से जानते हैं.

पोषक तत्व पोषक तत्वों की मात्रा
प्रोटीन 2 gm
सेलेनियम 0.4 µg
कैल्शियम 12 mg
फास्फोरस 52 mg
कार्बोहाइड्रेट 8.53 gm
राइबोफ्लेविन 0.13 mg
कॉपर 0.19 mg
मैग्नीशियम 29 mg
जिंक 0.64 mg
विटामिन-सी  10 mg
विटामिन ई 2.07 mg
फाइबर 6.7 gm
विटामिन-बी 6 0.257 mg
नियासिन  1.738 mg
फोलेट 81 µg

एवोकाडो के नुकसान – Side Effects of Avocado in Hindi

एवोकाडो एक गुणकारी फल है, लेकिन इसका ज्यादा सेवन करने से आपको नुकसान उठाने पड़ सकते हैं. तो चलिए जानते हैं कि एवोकाडो का ज्यादा मात्रा में सेवन करने से आपके स्वास्थ पर कौन कौन से नुकसान हो सकते हैं.

  1. एवोकाडो के अधिक सेवन करने से पेट में जलन, पेट में गैस जैसी समस्या होने लगती है.
  2. कुछ लोंगो को एवोकाडो फल का सेवन से एलर्जी होती है.
  3. जिन लोगो का वजन अधिक है तो एवोकाडो का सेवन न करें क्योंकि इसमें वजन बढ़ाने वाले तत्त्व मौजूद होते हैं.
  4. ज्यादा मात्रा में एवोकाडो खाने से लिवर ख़राब होने का खतरा होता है.
  5. एवोकाडो का अधिक मात्रा में सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल का स्तर ज्यादा गिर सकता है जो स्वस्थ के लिए अच्छा नहीं है.

FAQs Avocado in Hindi

एवोकाडो फल को हिंदी में क्या कहते हैं?

एवोकाडो फल को हिंदी में रूचिरा कहा जाता है.

रोज कितना एवोकाडो खाना चाहिए?

सामान्य तौर पर एक दिन में लगभग 50-100 ग्राम एवोकाडो फल का सेवन किया जा सकता है.

क्या कच्चा एवोकाडो को खाया जा सकता है?

जी हां, कच्चा एवोकाडो फल को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर उसमे स्वादानुसार नमक छिड़ककर खाया जा सकता है.

एवोकाडो फल की कीमत क्या है?

1 किलो एवोकाडो फल की कीमत लगभग 80-100 रूपए होती है.

एवोकाडो खाने के फायदे क्या क्या हैं?

एवोकाडो खाने से कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं जैसे पाचन क्रिया सुधारने में,वजन नियंत्रण में,आंखों की रोशनी बढ़ाने में,कैंसर के खतरे को कम करने में इत्यादि.

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है आपको यह पोस्ट एवोकाडो क्या है इसको खाने के फायदे (Avocado in Hindi) जरुर पसंद आई होगी.यदि आपके मन में एवोकाडो फल से जुड़े कोई सवाल या सुझाव है तो नीचे कमेंट कर सकते हैं. इसके अलावा इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर भी शेयर करें जिससे अन्य लोगो तक एवोकाडो खाने के फायदे (avocado ke fayde) के बारे में सही जाकारी मिलेगी.

अन्य पढ़ें –

About Vijay Singraul

नमस्कार दोस्तों, मैं HindiMePost का Chief Author और Founder हूँ. मुझे Blogging और Technology से जुडी जानकारियां पढने और दूसरों के साथ शेयर करने में अच्छा लगता है. आप भी इस ब्लॉग से जुड़े और रोजाना कुछ नया सीखें. Facebook | Instagram | Twitter

Leave a Comment