सर्दी जुकाम के आयुर्वेदिक उपचार और घरेलु नुख्से

सर्दी जुकाम होना आम बात है यह किसी को भी हो सकती है लेकिन यही इसका सही समय पर इलाज न किया जाए तो यह खतरनाक रूप ले सकता है. सर्दी होने से कई तरह कि परेशानिया बन जाती है जैसे कि गले में कफ बनना, सिर दर्द कमर दर्द होना इत्यादि. ठण्ड के मौसम में सर्दी भयंकर रूप ले लेती है इसलिए इसका समय रहते इलाज करना चाहिए. आज के इस पोस्ट में हम पढेगे कि सर्दी को ठीक करने के लिए आयुर्वेदिक नुख्से कौन कौन से है. घरेलु उपचार का यह फायदा होता है कि इससे कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं होते है.

सर्दी जुकाम के आयुर्वेदिक उपचार – Sardi Jukam Treatment in Hindi

sardi-jukam-ke-gharelu nukhse

सर्दी का असर नाक से शुरू होकर पूरे शरीर में पहुच जाता है. सर्दी को ठीक करने के लिए घरेलु नुख्से बहुत फायदेमंद है.

  1. यदि सर्दी के कारण नाक बंद हो रही है तो 1 गिलास पानी में थोडा सा नमक मिलाकर गरारे करें. गगारे करने से गले कि खराश दूर हो जाती है और सर्दी से भी छुटकारा मिलता है.
  2. हल्दी सर्दी के लिए रामबाण का काम करती है. 1 गिलास दूध में थोडा सा हल्दी डालकर पीने से गले कि कफ दूर हो जाती है. आग में हल्दी का एक टुकड़ा डालकर उसका धुँआ लेने से नाक तेजी से बहना शुरू हो जाएगी और सर्दी ठीक हो जाएगी.
  3. सर्दी के कारण पाचन क्रिया भी प्रभावित होती है इसलिए हल्का भोजन करें ताकि वह आराम से पच जाए.
  4. 1 गिलास हल्का गर्म पानी में आधा नीबू निचोड़कर अब उसमे थोडा सा शहद मिलकर पीने से विटामिन C कि कमी पूरी हो जाती है. सर्दी के इलाज के लिए विटामिन C बहुत आवस्यक है.
  5. खजूर बहुत फायदेमंद है सर्दी से छुटकारा पाने के लिए. 1 गिलास दूध में उबले हुए खजूर का सेवन करने से सर्दी जुकाम से रहत मिलती है.
  6. सर्दी-जुकाम से ग्रसित व्यकित हो ज्यादा पानी पीना चाहिए. ताजे फलो का जूस पीने से और ज्यादा फायदा करेगा.
  7. तुलसी कि पत्ती सर्दी के लिए असरदार है. तुलसी की पत्तियों को पानी में उबालकर इसका काढ़ा बनाकर पीने से सर्दी चली जाएगी. तुलसी कि पत्तियों को चबा कर भी खा सकते है.
  8. चाय में तुलसी अदरक, पुदीना और काली मिर्च मिलाचार पीने से सर्दी जुकाम से छुटकारा मिलता है.
  9. प्रतिदिन 2 बार अदरक और शहद मिलाकर खाने से सर्दी से आराम मिलेगा.
  10. लहसुन का सूप सर्दी जुकाम के लिए बहुत फायदेमंद है .

सर्दी जुकाम के लक्षण – Common Cold Symptoms in Hindi

सर्दी जुकाम होने पर उसके लक्षण आमतौर पर कुछ बाद दिखाई देते हैं. ऐसा बहुत कम होता है कि सर्दी जुकाम होने के साथ ही उसके लक्षण दिखाई दिखाई देने लगे.अक्सर हम जुकाम और फ्लू के लक्षणों का पता नहीं लगा पाते हैं. लेकिन जुकाम और फ्लू के लक्षणों का पता होना चाहिए तभी हम अपना इलाज कर सकते हैं. सर्दी जुकाम के लक्षण कुछ इस प्रकार होते हैं हैं –

  • बंद नाक
  • नाक बहना
  • नाक भारी होना
  • कुछ भी न सूंघ पाना
  • बार बार छींक आना
  • सिरदर्द
  • गले में खराश
  • थकान
  • ठण्ड लगना
  • शरीर में दर्द
  • हल्का बुखार
  • सांस लेने में कठिनाई

सर्दी जुकाम से बचने के लिए क्या करना चाहिए – Prevention of Common Cold in Hindi

  • सर्दी जुकाम होने से हमारी दिनचर्या प्रभावित होती है. सर्दी- जुकाम से छुटकारा पाने के लिए अभी तक कोई सटीक दवाई या टिका नहीं बना है. इसलिए बेहतर यही होगा कि हमें सर्दी के इन्फेक्शन से बचना चाहिए.
  • सर्दी से बचने का आसान तरीका यह है कि अपने हाथो कि सफाई ठीक से और बार बार करे. बार बार धोने से संक्रमित वस्तुओ को छूने के कारण हाथ में जामा कीटाणु नष्ट हो जायेगे.
  • खाने पीने का विशेष ध्यान रखे. ऐसा भोजन करें जिसमे पोषक तत्व मौजूद हो.
  • सर्दी से पीड़ित व्यक्ति को एक-दूसरे का बर्तन इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.

मुझे उम्मीद है आपको यह पोस्ट सर्दी जुकाम के घरेलू उपचार (Sardi Jukam Ka Ilaj in Hindi) जरुर पसंद आई होगी. यदि आपके पास कोई और Sardi Jukam Treatment in Hindi है तो हमारे साथ शेयर कर सकते हैं. पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे सोशल मीडिया पर भी शेयर करें.

About Vijay Singraul 101 Articles
नमस्कार दोस्तों, मैं HindiMePost का Chief Author और Founder हूँ | मुझे Blogging और Technology से जुडी जानकारियां पढने और दूसरों के साथ शेयर करने में अच्छा लगता है| आप भी इस ब्लॉग से जुड़े और रोजाना कुछ नया सीखें.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*