एनीमिया (खून की कमी) के घरेलू उपाय | Anemia (Khoon Ki Kami) Ke Gharelu Upay

स्वस्थ शरीर के लिए सभी विटामिन और मिनिरल्स की आवश्यकता पड़ती है। आज कल भागदौड़ की ज़िंदगी में लोग अनियमित दिनचर्या और खराब खानपान करते है  जिसके के कारण कई बार शारीरिक समस्याएं होने लगती है। उन्ही समस्याओं में से एक है खून की कमी होना।

खून की कमी को एनीमिया रोग भी कहा जाता है। जब शरीर में लाल रक्त कोशिकाएं कम होती है या हीमोग्लोबिन कम होता है तो एनीमिया रोग हो जाता है। आज के इस पोस्ट में हम एनीमिया के बारे में विस्तार जानेंगे।

एनीमिया क्या है – Anemia Kya Hai

Anaemia (Khoon Ki Kami) Ke Gharelu Upay


एनीमिया का मतलब होता है शरीर में खून की कमी। हमारे शरीर में लाल रक्त कोशिकायें होती हैं, जो शरीर के सभी अंगों और टिशू तक ऑक्सीजन ले जाने का कार्य करते हैं। जब लाल रक्त कोशिकायें की मात्रा कम होने लगती है तो शरीर में खून की कमी हो जाती है, जिसे एनीमिया या रक्ताल्पता भी कहा जाता है। पुरुष के मुकाबले महिलाओं को एनीमिया रोग की ज्यादा समस्या रहती है। इसका मुख्य कारण मासिक धर्म होता है।

हीमोग्लोबिन क्या है – Hemoglobin Kya Hai

हीमोग्लोबिन एक प्रकार का तत्व है जो लाल रक्त कोशिकाओं में पाया जाता है। एक पुरुष के शरीर में में 14 से 18 मिलीग्राम और और व्‍यस्‍क महिला के शरीर में 12 से 16 मिलीग्राम हीमोग्लोबिन होता है। स्वस्थ शरीर के लिए सभी व्यक्ति के शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर नियंत्रित होना चाहिए। अगर किसी कि शरीर में हीमोग्लोबिन सामान्य स्तर से कम है इसका मतलब है शरीर में खून की कमी है।

शरीर में खून बढाने के उपाय – Sharir Mein Khoon Badhane Ke Upay

शरीर में खून की कमी होने के कई कारण हो सकते हैं। लेकिन इसका इलाज जल्द से जल्द करना चाहिए नहीं तो बाद मे आपको नुकसान उठाने पड़ सकते हैं। शरीर में खून बढ़ाने के बहुत सारे तरीके हैं लेकिन हम आपको खून बढाने के कुछ आसान घरेलू तरीको के बारे में बतायेगे जिसकी मदद से आप हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ा सकते है।

1.) खून की कमी को दूर करने का घरेलू इलाज है चुकंदर

खून की कमी को दूर करने के लिए चुकंदर बहुत लाभकारी माना जाता है। चुकंदर का सेवन करने से शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने में मदद करता है। इसके अलावा हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ाने में भी मदद करता है। इसके लिए आप चुकंदर को सलाद के रूप में का सकते हैं। इसके अलावा चुकंदर का जूस बनाकर सेवन किया जा सकता है।

2.) एनीमिया से बचने का उपाय है केला

केले उन चुनिंदा फलों में से एक है जो खाने में स्वादिष्ट और तुरंत पेट भरने का काम करते हैं। इसका सेवन करने से न सिर्फ स्वास्थ्य अच्छा रहता है बल्कि एनीमिया से बचने का उपाय भी माना जाता है। केले में आयरन और मैग्नीशियम उच्च मात्रा में पाया जाता है जो खून बढाने में मदद करता है। इसके लिए आप केले के साथ एक चम्मच शहद मिलाकर खा सकते हैं।

3.) खून की कमी को दूर करें अनार से

अनार का ऊपरी परत  जितनी कठोर और सख्त होता है उतना ही अंदर का भाग स्वादिष्ट और मीठा होता है। अनार का सेवन करने से कई स्वास्थवर्धक लाभ होते है। इसके अलावा, यह शरीर में खून बढ़ाने में मदद करता है। अनार में आयरन और अन्य पोषक तत्व पाए जातें हैं जो हीमोग्लोबिन के स्तर में वृद्धि करते है। इसके लिए अनार को छीलकर उसके दानों का सीधा सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा, अनार का जूस बनाकर सेवन कर सकते हैं।

4.) हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए बादाम खाएं

बादाम का सेवन करने से आपके शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा नियंत्रित रहती है। इसके लिए आप रोज सुबह भीगे हुए बादाम का सेवन कर सकते हैं। यह आपके शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने में मदद करता है और खून की कमी को दूर करता है।

5.) खून बढ़ाने का तरीका है पालक

पालक एक हरी पत्तेदार सब्जी है जो हर जगह आसानी से मिल जाती है। पालक सेवन करने से शरीर में आयरन की मात्रा बढ़ती है और हीमोग्लोबिन में वृद्धि होती है। अगर आपके शरीर में खून की कमी है तो आपको अपने आहार में पालक की सब्जी शामिल कर सकते हैं। इसके अलावा पालक का जूस बनाकर पी सकते हैं।

6.) एनीमिया दूर करने के उपाय है सेब

सेब दुनियाभर में सबसे ज्यादा खाया जाने वाला लोकप्रिय फल है। सेब में आयरन सहित कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो एनीमिया को दूर करने में मदद करते है। इसके लिए आप एक सेब रोजाना सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा सेब का रस और चुकंदर का रस और थोड़ा सा शहद मिलाकर पियें।

7.) हीमोग्लोबिन बढ़ाने का तरीका है खजूर

खजूर एक सुपरफूड है जो खाने में मीठा और स्वादिष्ट होता है। खजूर में आयरन और विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इससे शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण में मदद मिलती है और हीमोग्लोबिन स्तर बढ़ता है। एक कप दूध में दो खजूर डालकर रात भर के लिए रख दें। अगली सुबह खाली पेट इसका सेवन करें।

8.) एनीमिया के उपचार में मेथी का प्रयोग

पालक में आयरन, विटामिन बी 12, फोलिक एसिड और अन्य पोषक तत्व पाएं जातें हैं जो एनीमिया को रोकने में मदद करते हैं। एक गिलास पानी में 1 चम्मच मेथी के दाने डालकर रात भर के लिए रख दें। अगली सुबह इसको छानकर पियें। इससे आपके शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की वृद्धि होती है।

9.) खून बढ़ाने का घरेलू उपाय है काला तिल

काले तिल का सेवन करने से शरीर में आयरन कमी पूरी होती है। इसके अलावा खून की कमी को दूर करने में मदद करता है। 2 चम्मच काले तिल को पानी में डालकर कर दो-तीन घंटे के लिए रख दें। उसके बाद तिल को निकालकर पेस्ट बना लें। अब इस पेस्ट में शहद मिलाकर दिन में दो बार सेवन करें।

10.) खून बढ़ाने का तरीका है अंजीर

अंजीर एक स्वादिष्ट फल है जिसे फल और ड्राईफ्रूट दोनों प्रकार से खाया जाता है। अंजीर खाने में जितना स्वादिष्ट है, उतना ही शरीर के लिए लाभकारी होता हैं। एनीमिया की समस्या से छुटकारा पाने के लिए अंजीर कारगर माना जाता है। 10 मुनक्के और 5 अंजीर को एक ग्लास दूध में डालकर उबाल लीजिये और फिर इसका सेवन करें।

एनीमिया के कारण – Causes of Anemia in Hindi

एनीमिया होने के कई कारण हो सकते है जैसे

  • आयरन की कमी
  • विटामिन बी-12 की कमी
  • फोलेट की कमी
  • कुपोषण
  • कुछ दवाओं का दुष्प्रभाव
  • गर्भावस्था
  • बोन मैरो का नष्ट या बाधित होना
  • धीमी गति से रक्त रक्तस्राव (मासिक धर्म)

एनीमिया के लक्षण – Symptoms of Anemia in Hindi

एनीमिया धीरे-धीरे शरीर पर अपना असर दिखता होता है। अब जानते हैं कि एनीमिया के लक्षण की पहचान कैसे कर सकते हैं

  • पीली त्वचा
  • आंखें पीली होना
  • थकान
  • दुर्बलता
  • अनियमित दिल की धड़कन
  • सांस लेने में तकलीफ
  • चक्कर आना
  • छाती में दर्द
  • ठंडे हाथ और पैर
  • सिर दर्द

अन्य पढ़ें –

About Editorial Staff

Hindi Me Post पर आपको कंप्यूटर, टेक्नोलॉजी, डिजिटल मार्केटिंग और ऑनलाइन पैसे कमाने की जानकारी शेयर की जाती है. हमारा मकसद है हम एक दम सरल भाषा आपको जानकरी दें. Facebook | Instagram | Twitter

Leave a Comment