टाइफाइड को जड़ से खत्म करने का इलाज | Typhoid ka gharelu ilaaj

टाइफाइड को जड़ से खत्म करने का इलाज – टाइफाइड एक खतरनाक बीमारी है जिसके कारण रोगी के शरीर में बुखार कई दिनों तक बना रहता है। आमतौर पर बारिश के महीनों में टाइफाइड होने का खतरा ज्यादा बढ़ जाता है। क्योंकि बारिश में संक्रमण और बैक्टीरिया फैलने का खतरा ज्यादा रहता है।

टाइफाइड रोगी के शरीर को धीरे-धीरे कमजोर बना देती है। टाइफाइड के कारण रोगी को बुखार चढ़ता-उतरता रहता है, लेकिन सामान्य स्थित में कभी नहीं रहता। आज के इस पोस्ट में हम विस्तार से जानेगे कि टाइफाइड क्या है, इसके लक्षण, कारण और टाइफाइड को जड़ से खत्म करने का इलाज और घरेलू उपाय क्या हैं।

टाइफाइड क्या है – What is Typhoid in Hindi

typhoid ka gharelu ilaaj

टाइफाइट एक प्रकार का बैक्टीरियल इंफेक्शन है जो दूषित पानी और खाने के द्वारा हमारे शरीर में चला जाता है। टाइफाइड फैलने वाली बीमारी है या एक संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से आपको भी यह बीमारी हो सकती है।

टाइफाइड को मोतीझिर या मियादी बुखार के नाम से भी जाना जाता है। टाइफाइड के कारण रोगी के पाचन तंत्र और खून के प्रवाह में साल्मोनेला टाइफी नाम का बैक्टीरिया हो जाता है जिसके कारण रोगी को बुखार के साथ सिर दर्द, छाती में जलन जैसी समस्याएं होने लगती है।

टाइफाइड के लक्षण – Symptoms of Typhoid in Hindi

टाइफाइड होने पर शरीर का तापमान बढ़ने लगता है साथ ही कई अन्य लक्षण भी नजर आते हैं जैसे –

  • बुखार आना।
  • सिर दर्द होना।
  • ठंड लगना।
  • कमजोरी और थकान महसूस करना।
  • भूख कम लगना।
  • आलस्य का अनुभव होना।
  • मांसपेशियों में दर्द होना।

टाइफाइड को जड़ से खत्म करने का इलाज – Typhoid Ka Desi Ilaaj

टायफाइड बुखार साल्‍मोनेला टाइफी नामक बैक्‍टीरिया के कारण होता है इसलिए इसका नाम टायफाइड रखा गया है। टाइफाइड का इलाज करने डॉक्टर एंटीबायोटिक दवाइयां लेना का सुझाव देते हैं। लेकिन कुछ घरेलू उपचार अपनाकर भी टाइफाइड टाइफाइड को जड़ से खत्म किया जा सकता है।

1.) टाइफाइड को कैसे ठीक करें तुसली से

तुलसी एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है जिसमे एंटीबायोटिक और जीवाणुरोधी गुण मौजूद होते हैं। टाइफाइड को जड़ से खत्म करने के लिए तुलसी का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए 1 कप पानी में 20 तुलसी के पत्ते और 1 चम्मच पिसी हुई अदरक मिलाकर गर्म करें। इसे तब तक गर्म होने दें जब तक यह मिश्रण आधा न हो जाए। अब इसमें थोड़ा सा शहद मिलाकर दिन में 2 या 3 बार इसका सेवन करें।

इसके अलावा आप 5 से 7 तुलसी के पत्तों से रस और एक चुटकी काली मिर्च को मिलाकर मिश्रण बना लें।  अब इस मिश्रण का सेवन दिन में 2-3 बार करें। इस प्रकिया को कुछ हप्तो तक जारी रख सकते हैं, आपको टाइफाइड की समस्या में आराम मिलने लगेगा।

2.) टाइफाइड को जड़ से खत्म करने का इलाज है केला

टाइफाइड को जड़ से खत्म करने का इलाज करने के लिए केले का इस्तेमाल किया जा सकता है। केले में पेक्टिन नाम का घुलनशील फाइबर मौजूद होता है जो आंतों में तरल पदार्थ को अवशोषित करने में मदद करता है साथ ही टाइफाइड की समस्या से निजात दिलाने में मदद करता है। 2 कप दही में 2 केलो को मैश कर लें और फिर इसमें 1 चम्मच शहद मिलाकर दिन में 2-3 बार रोजाना खाएं।

3.) टाइफाइड को कैसे दूर करें सेब का सिरका से

सेब का सिरका टाइफाइड की समस्या से निजात दिलाने में मददगार साबित हो सकता है। इसके लिए एक गिलास पानी में आधा चम्मच सेब का सिरका और थोड़ा सा शहद मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें। अब इस मिश्रण को खाना खाने से पहले सेवन करें। इसके अलावा टाइफाइड से छुटकारा पाने के लिए सेब के सिरके में अदरक का रस मिलाकर ही पी सकते हैं।

4.) टाइफाइड को जड़ से खत्म करने का इलाज है लहसुन

लहसुन में एंटीबायोटिक गुण पाए जाते हैं जो बैक्टीरिया से लड़ने में मदद करते हैं और टाइफाइड में आराम मिलता है। टाइफाइड को जड़ से खत्म करने का इलाज करने के लिए आप आधा चम्मच पिसी हुई लहसुन, 1 कप दूध और 4 कप पानी को मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें। अब इस मिश्रण को गर्म करें और इसे तब तक गर्म होने दें जब तक यह मिश्रण एक चौथाई न हो जाए। इसके बाद इस घोल को दिन में 2-3 बार पिएं।

इसके अलावा घी में 6-7 लहसुन की कली डालकर फ्राई कर लें। अब इसमें सेंधा नमक डालकर इसका सेवन करने से टाइफाइड बुखार दूर हो जाती है।

5.) टाइफाइड से बचने का घरेलू उपाय है लौंग

लौंग में मौजूद जीवाणुरोधी गुण टाइफाइड से पनपने वाले बैक्टीरिया को मारने में सक्षम होते हैं। इसके लिए 8 कप पानी में 5 से 7 लौंग डालकर उबाल लें। इसे तब तक उबलने दें जब पानी आधा न हो जाए। इसके बाद इसे छानकर, दिन में 2-3 बार पिए इससे टाइफाडइ की समस्या दूर हो जायेगी।

6.) टाइफाइड को जड़ से खत्म करने का इलाज है शहद

शहद में एंटीवायरल, एंटीबैक्टिया और एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं जो टाइफाइड के उपचार में मददगार साबित हो सकते हैं। इसके लिए गुनगुने पानी में एक चम्मच शहद डालकर पी सकते हैं।

7.) टाइफाइड से बचने के उपाय में खूब पानी पियें

मनुष्य को दिन भर में लगभग 8 से 10 गिलास पानी जरुर पीना चाहिए। शरीर में पानी की पर्याप्त मात्रा होने से समय समय पर शौच और पेशाब आता है, जिससे हमारे शरीर से हानिकारक पदार्थ बाहर निकल जाते है। इसके अलावा टाइफाइड के घरेलू उपाय में आप फ्रूट जूस, नारियल पानी, सूप आदि तरल पदार्थ पी सकते हैं।

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है आपको यह पोस्ट टाइफाइड को जड़ से खत्म करने का इलाज (Typhoid ka gharelu ilaaj) जरुर पसंद आया होगा। इस पोस्ट में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. इसलिए इस पर अमल करने से पहले किसी डॉक्टर या विशेषज्ञ की परामर्श जरूर लें।

अन्य पढ़ें –

Rate this post

1 thought on “टाइफाइड को जड़ से खत्म करने का इलाज | Typhoid ka gharelu ilaaj”

  1. Thank your for sharing such really nice information sir

    Reply

Leave a Comment