कद्दू और कद्दू के बीज खाने के फायदे | Benefits of Pumpkin Seeds in Hindi

About Pumpkin in Hindi – हम सभी लोग कद्दू को भली-भांति जानते हैं. कद्दू एक बहुत स्वादिष्ट और फायदेमंद सब्जी है. लेकिन ज्यादातार लोगों को कद्दू की सब्जी पसंद नहीं करते हैं. आपको बता दें कि कद्दू का इस्तेमाल सिर्फ सब्जी के रूप में नहीं किया जाता है बल्कि इससे अन्य व्यंजन भी बनाये जाते है जैसे मालपुआ, कुद्दू का हलवा व खीर आदि.

पके कद्दू के अन्दर बहुत से कद्दू के बीज (pumpkin seeds) होते हैं जिसको हम में से ज्यादातर लोग इन्हें फेक देते हैं. आपको बता दें कि कद्दू के बीज भी बहुत गुणकारी और स्वास्थवर्धक होते हैं. कद्दू और कद्दू के बीज का इस्तेमाल करने से कई स्वास्थवर्धक लाभ और कई प्रकार की बीमारियों से बचने में मदद मिलती है. तो चलिए आज के इस पोस्ट में हम कद्दू खाने के फायदे (kaddu ke fayde) के बारे में विस्तार से जानते हैं.

विषय सूची

कद्दू क्या है – Pumpkin in Hindi

pumpkin seeds in hindi
कद्दू को कुम्हड़ा भी कहा जाता है.कद्दू का तना लम्बा, कमजोर और हरे रंग का होता है.इसकी पत्तियों का आकार चौड़ा,वृत्ताकार और हरे रंग की होती हैं.कद्दू लंबा या गोलाकार होता है, वही इसके अन्दर काफी मात्रा में बीज पाये जाते हैं.कद्दू के पेड़ की अवधि लगभग एक वर्ष होती है. भारत के अलावा अन्य देशों जैसे अमेरिका, मेक्सिको, चीन में भी कद्दू का उत्पादन किया जाता है.

कद्दू के बीज – Pumpkin Seeds in Hindi

कद्दू के बीज (pumpkin seeds) छोटे अंडाकार के रूप में होते है जिन्हें पेपिटस भी कहा जाता है.कद्दू के बीज पर बाहर सफेद रंग की परत होती है लेकिन इस परत को छीलने से अंदर हरे रंग का बीज निकलटा है. इन छोटे-छोटे कद्दू के बीज में मिनरल्स, विटामिन, फाइबर और अन्य पोषक तत्वों की भरपूर मात्रा पाई जाती है.कद्दू के बीज का इस्तेमाल मिठाई, मीठी चटनी,सूप और सब्जियों में किया जाता है.

कद्दू और कद्दू के बीज खाने के फायदे – Kaddu Ke Beej Ke Fayde

कद्दू में कई औषधीय गुण पाए जाते हैं जो शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते है. तो चलिए जानते हैं कि शरीर की कौन-कौन सी समस्याओं से छुटकारा दिलाने के लिए कद्दू और कद्दू के बीज खाने के फायदे (kaddu ke beej ke fayde) हो सकते है.

1. कद्दू खाने के फायदे वजन कम करने में

मोटापा एक गंभीर समस्या बन गया है. भागदौड़ भरी ज़िन्दगी में अक्सर लोग गलत खान पान और अनियमित दिनचर्या अपनाते है परिणाम स्वरुप उनका वजन कब बढ़ जाता है पता भी नहीं चलता है. मोटापे की वजह से शरीर में कई सारी परेशानियाँ होने लगती है इसलिए इसे नियंत्रण करना बहुत आवश्यक होता है.

मोटापे की समस्या से जूझ रहे व्यक्ति को कद्दू का सेवन करना चाहिए.कद्दू बहुत ही कम कैलोरी वाली सब्जी होती है जिसका सेवन करने से वजन नियंत्रण में मदद मिलती है.

(और पढ़ें – बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपाय – Pet Kam Karne Ke Upay)

2. कद्दू के गुण करे कैंसर के खतरे को कम

कैंसर एक जानलेवा बीमारी है और इसके इलाज में भी रोगी को बहुत तकलीफ होती है. शुरुआती स्टेज में कैंसर का इलाज संभव है लेकिन आख़री स्टेज में कैंसर को हराना असंभव हो जाता है.भारत में भी कैंसर के मरीजों की संख्‍या में लगातार बढ़ रही है अगर सही खानपान और सही जीवनशैली अपनाया जाए तो इस बीमारी से बचा जा सकता हैं.

कद्दू का सेवन करने से कैसर पीड़ित रोगी को फायदा मिलता है.कद्दू में एंटी कैंसर गुण पाए जाते हैं, जो कैंसर की कोशिकाओं को बढ़ने से रोकता है और कैंसर के खतरे को कम करने में मदद करता है.

3. कद्दू के औषधीय गुण है मधुमेह में लाभकारी

आज के समय में मधुमेह एक गंभीर समस्या बनती जा रही है. यह बीमारी छोटे बच्चों से युवा, बुजुर्ग सभी उम्र के लोगो को अपनी चपेट में ले रही है.मधुमेह की बीमारी होने पर इसे नियन्त्र करने के लिए व्यक्ति जिन्दगी भर दवाइयों का सेवन करता है.और अगर वक्त रहते मधुमेह के लक्षणों पर नज़र अंदाज़ कर दिया जाए, तो मधुमेह से पीड़ित व्यक्ति की जान भी जा सकती है.

मधुमेह को नियंत्रित करने के लिए कद्दू का सेवन किया जा सकता है.कद्दू में मेथनॉल तत्व की प्रचुर मात्रा पाई जाती है, जो रक्त में उपस्थित ग्लूकोज के स्तर को कम करने में सहायक होता है जिससे काफी हद तक मधुमेह की समस्या से राहत मिलती है.

(और पढ़ें – शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय – Sugar Kam Karne Ke Upay)

4. हृदय स्वास्थ्य के लिए कद्दू खाने के फायदे

हृदय शरीर का बहुत महत्वपूर्ण अंग होता हैं जिसकी देखभाल करना बहुत जरूरी है.आजकल हृदय रोगियों की संख्या दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है. हम में से अधिकांश लोग गलत खान पान और अवस्थ जीवन शैली अपनाते है जो दिल की बीमारी का प्रमुख कारण है.यदि हम अपने दैनिक जीवन में कुछ बदलाव करें तो हृदय को स्वस्थ रखने में मदद मिलती है जैसे सही आहार लेना, व्यायाम करना, पर्याप्त नींद लेना इत्यादि.

हृदय रोग से जुडी समस्या से छुटकारा पाने के लिए कद्दू बहुत लाभकारी होता है.कद्दू में बीटा-कैरोटीन तत्व पाया जाता है जो हृदय रोग से छुटकारा दिलाने में मदद करता है.

5. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने के लिए करें कद्दू का सेवन

रोग प्रतिरोधक क्षमता शरीर को बिमारियों से लड़ने के लिए शक्ति प्रदान करता है. आपने अक्सर देखा होगा कि जरा से मौसम परिवर्तन होने पर कुछ लोगो सर्दी-जुकाम हो जाती है, जबकि कुछ लोगो पर इसका कोई असर नहीं होता. यह सब रोग प्रतिरोधक क्षमता का कमाल होता है. शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने के लिए स्वस्थ आहार के साथ-साथ सही जीवन शैली का होना बहुत आवश्यक होता है.

जिन लोगो के शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर है उन्हें अपने आहार में कद्दू शामिल करना चाहिए.कद्दू में मैग्नीशियम की प्रचुर मात्रा पाई जाती है जो मांसपेशियों को मजबूत रखने में मदद करती है. इसके अलावा स्वस्थ कोशिका निर्माण में सहायक होती है जिससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है.

6. कद्दू के बीज खाने के फायदे बालों के लिए

स्वस्थ और घने बाल पर्सनालिटी को चार-चाँद लगा देते हैं. बच्चो से लेकर युवा, बुजुर्ग सभी को अपने बालों से प्यार होता है. लेकिन दूषित वातावरण और गलत खान पान की वजह से कई लोगो के बाल झड़ने लगते है. एक बार बाल झाड़ना शुरू हो गया तो आदमी गंजा कब हो जाता है पता भी नहीं चलना, इसलिए झड़ते हुए बालों को रोकना बहुत जरुरी होता है.

बालों को स्वस्थ रखने के लिए कद्दू के बीज का इस्तेमाल किया जा सकता है. इसके लिए कच्चे या भुने हुए कद्दू के बीजों का सेवन कर सकते हैं. इसके अलावा आप रात में सोने से पहले कद्दू के बीज का तेल से बालों या स्कैल्प पर मालिश करने से बाल की जड़ें मजबूत और बाल झड़ना रुक जाते हैं.

(और पढ़ें – बाल उगाने का तरीका – Jhadte Balon Ka Ilaj)

7. कद्दू के बीज खाने के फायदे त्वचा के लिए

अक्सर मौसम परिवर्तन और दूषित वातावरण के कारण त्वचा में रूखापन आ जाता है. फिर इस रूखी त्वचा से छुटकारा पाने के लिए लोग बाजार की क्रीम या दवाइयों का इस्तेमाल करते है लेकिन जब तक इनका असर रहता है तब तक त्वचा सही रहती है.फिर जैसे ही इनका असर ख़त्म हो जाता है त्वचा दुबारा पहले जैसे हो जाती है.

रूखी त्वचा से छुटकारा पाने के लिए कद्दू के बीज का इस्तेमाल किया जा सकता है.कद्दू के बीज विटामिन-सी की भरपूर मात्रा पाई जाती है, जो त्वचा को मॉइस्चराइज करने में कारगर होती है. इसके लिए पिसे हुए कद्दू के बीज, थोडा मक्खन और अंडा डालकर पेस्ट बना लें.अब इस पेस्ट को अपनी त्वचा पर लगाएं और लगभग 15-20 मिनट बाद इसे साफ़ पानी से धो लें.इस प्रक्रिया को हफ्ते में दो-तीन बार दोहराएँ.

(और पढ़ें – चेहरा साफ करने के उपाय – Gora Hone Ke Gharelu Nuskhe)

8. कद्दू के बीज खाने के फायदे हड्डियों लिए

उम्र ढलने के साथ-साथ हड्डियां भी कमजोर होने लगती हैं. लेकिन कुछ लोगो की उम्र से पहले ही हड्डिया कमजोर हो जाती है उसके कई कारण हो सकते हैं जैसे शरीर में अनुवांशिकता,पोषक तत्वों की कमी, धूम्रपान इत्यादि. हड्डियां कमजोर होने की स्थिति को ‘ऑस्टियोपोरोसिस’ कहा जाता है.ऑस्टियोपोरोसिस पुरुष और महिलाओ दोनों को प्रभावित कर सकता है.ऑस्टियोपोरोसिस के कारण हड्डियां खोखली व कमजोर हो जाती हैं और वजन उठाने पर टूट भी सकती हैं.

ऑस्टियोपोरोसिस से छुटकारा पाने कद्दू के बीज खाने के फायदे देखे जा सकते हैं. कद्दू के बीज में मैग्नीशियम की प्रचुर मात्रा पाई जाती है जो हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करती है.

9. कद्दू के बीज खाने के फायदे कोलेस्ट्रोल नियंत्रण में

कोलेस्ट्रॉल एक प्रकार का रक्त में पाया जाने वाला फैट है, जो हार्मोन्स के उत्पादन और उनके सही ढंग से काम करने के लिए सहायक होता है, लेकिन जब शरीर में जरुरत से ज्यादा कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ जाता है तो शरीर में कई प्रकार की समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं.संतुलित आहार और सही दिनचर्या अपनाने से कोलेस्ट्रोल को नियंत्रण किया जा सकता है.

नियमित रूप से कद्दू के बीज खाने से कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित करने में मदद मिलती है.फाइटोस्टेरॉल और मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड मौजूद होता है जो शरीर के ख़राब कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करता है और अच्छे कोलेस्ट्रोल को बढाने में मदद करता है.

10. गठिया रोग के लिए फायदेमंद है कद्दू के बीज का तेल

अर्थराइटिस या गठिया रोग जोड़ों में होने वाली एक बीमारी है जिसमे रोगी को जोड़ों को घुमाने, मोड़ने, हिलाने और चलने में परेशानी होती है.गठिया रोग अधिकतर 30 से 50 वर्ष के लोगो को प्रभावित करता है. वही महिलाओं की तुलना में पुरुषों को ज्यादा समस्या होती है. गठिया रोग से पीड़ित की रोज़मर्रा की जीवनशैली बुरा प्रभाव पड़ता है. कई बार असहनीय पीड़ा बढ़ने से उसके हाथ – पांव हरकत करना तक बंद कर देते हैं.

गठिया रोग से छुटकारा पाने के लिए कद्दू के बीज का तेल इस्तेमाल करना लाभकारी होता है.कद्दू के बीज में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाया जाता है जो जोड़ो में दर्द और सूजन को कम करने में मदद करता है. इसके लिए कद्दू के बीज का तेल से दिन में दो बार मालिश करें.

11. कद्दू के बीज खाने के फायदे आंखों लिए

आँखे मानव जीवन का अनमोल रतन होती हैं क्योंकि इन्ही से हम दुनिया को देखते है. उम्र ढलने के साथ-साथ आँखे कमजोर होना आम बात है लेकिन कई लोगो की आँखे कम उम्र में ही कमजोर हो जाती है और उन्हें धुंधला दिखाई देने लगता है. आँखे कमजोर होने के कई कारण हो सकते हैं जैसे आंखों की ठीक से देखभाल न करना,पोषक तत्वों की कमी या अनुवांशिक कारण भी हो सकते हैं.

कद्दू के बीज खाने से आँखे स्वस्थ और दृष्टि अच्छी होती है.कद्दू के बीज में बीटा-कैरोटीन नामक तत्त्व पाया जाता है जो दृष्टि सुधारक के रूप में काम करता है.

12. कद्दू के बीज का उपयोग करें मुंहासे के लिए

कील-मुंहासे की समस्या एक आम समस्या है. लेकिन इसकी वजह से चेहरे की सुन्दरता ख़राब हो जाती है इसके अलावा चेहरे पर काले निशान भी पड़ जाते हैं.कील-मुंहासे की समस्या किसी भी उम्र के लोगो को हो सकती है. आम तौर पर कील-मुंहासे होने के कई सारे कारण है लेकिन उनमें से जो प्रमुख कारण अनियमित दिनचर्या और गलत खान है.

कील-मुंहासे की समस्या से छुटकारा पाने के लिए कद्दू के बीज का इस्तेमाल किया जा सकता है.कद्दू के बीजों में जिंक की प्रचुर मात्रा पाई जाती है, जो मुंहासों से निजात दिलाने में कारगर होती है. इसके लिए आप कद्दू के बीज को पीसकर दूध में मिलाकर रोजाना पी सकते हैं.

13. कद्दू के बीज का तेल करें बालों से डैंड्रफ को दूर

बालों में डैंड्रफ होना एक आम समस्या है. लेकिन ठंड के मौसम में बालों में ज्यादा रूसी देखने को मिलती है.डैंड्रफ बालो को नुकसान पहुचाते है जिससे बाल झड़ने लगते हैं.कई लोग डैंड्रफ से छुटकारा पाने के लिए बालों में एंटी डैंड्रफ शैंपू का इस्तेमाल करते है लेकिन लेकिन शैंपू भी ठीक तरह से काम नहीं करता.

रूसी से छुटकारा पाने के लिए आप कद्दू के बीज का तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं.कद्दू के बीज में जिंक की भरपूर मात्रा पाई जाती है जो डैंड्रफ की समस्या से निजात दिलाने में कारगर मानी जाती हैं. इसके लिए आप रात में सोने से पहले कद्दू के बीज का तेल से बालों या स्कैल्प पर अच्छी तरह से मालिश करें.

14. कद्दू के बीज खाने के फायदे एनीमिया के लिए

एनीमिया एक गंभीर बीमारी है जिसमे हीमोग्लोबिन का स्तर सामान्य से नीचे चला जाता है.एनीमिया रोग के कारण शरीर में कई समस्याएं होने लगती है जैसे पीली त्वचा,थकान, ब्लड प्रेशर की समस्या इत्यादि.एनीमिया रोग पुरुषों की तुलना में महिलाओं को ज्यादा होता है और इसका प्रमुख कारण है माशिक धर्म.

एनीमिया रोग से छुटकारा पाने के लिए भी कद्दू के बीजों का सेवन किया जा सकता है.कद्दू के बीजों में आयरन और फोलेट की भरपूर मात्रा पाई जाती है जो शरीर में खून की कमी को दूर करने में मदद करते हैं.

15. स्वस्थ मस्तिष्क के लिए करें कद्दू के बीज का सेवन

मानशिक स्वास्थ का असर लोगो के दिनचर्या पर पड़ता है. मानसिक स्वास्थ्य अच्छा होने से व्यक्ति के सोचने, समझने और कार्य करने की क्षमता बढ़ जाती है. जब व्यक्ति का मूड अच्छा होता है तो वह हर काम अच्छे तरीके से करता है. लेकिन मूड बिगड़ने पर उसमे चिड-चिडाहतपन आ जाती है और वह अपने काम के साथ साथ दूसरो का काम भी ख़राब कर देता है.

मस्तिष्क स्वास्थ्य को बेहतरीन बनाने के भी कद्दू के बीज का सेवन किया जा सकता है.कद्दू के बीज में विटामिन-सी की प्रचुर मात्रा पाई जाती है जो मस्तिष्क को स्वस्थ्य रखने में मदद करती है.

कद्दू का उपयोग – Uses of Pumpkin in Hindi

आप अपनी पसंद के अनुसार कद्दू को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं. तो चलिए जानते है कि कद्दू के खाने के तरीके कौन-कौन से हैं.

  1. कद्दू की सब्जी बनाकर सेवन कर सकते है.
  2. कद्दू और दूध के खीर बनाकर खा सकते है.
  3. कद्दू के बीज छीलकर खा सकते हैं.
  4. कद्दू के बीज को भूनकर सेवन किया जा सकता है.
  5. कद्दू के बीज को किसी व्यंजन में डालकर इस्तेमाल कर सकते हैं.

कद्दू के पौष्टिक तत्व – Nutritional Value of Pumpkin in Hindi

कद्दू स्वादिष्ट होने के साथ इसमें कई सारे पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं. तो चलिए जानते हैं कि कद्दू में कौन-कौन से पौष्टिक तत्व और कितनी मात्रा में पाए जाते हैं.

पोषक तत्व पोषक तत्वों की मात्रा
प्रोटीन  1 gm
सोडियम 1 mg
कैल्शियम 21 mg
फास्फोरस  44 mg
कार्बोहाइड्रेट 6.5 gm
राइबोफ्लेविन 0.11 mg
कॉपर 0.127 mg
मैग्नीशियम 12 mg
जिंक 0.32 mg
विटामिन-सी  9 mg
आयरन 0.8 mg
फाइबर 0.5 gm
विटामिन-बी 6 0.061 mg
नियासिन 0.6 mg
फोलेट 16 µg

कद्दू के नुकसान – Side Effects of Pumpkin in Hindi

कद्दू का ज्यादा मात्रा में सेवन करने से इसके नुकसान उठाने पड़ सकते है. तो चलिए जानते है कि कद्दू खाने के नुकसान क्या क्या होते है.

  1. कद्दू का सेवन करने से कुछ लोगो को एलर्जी की समस्या होती है.
  2. गर्भावस्था और स्तनपान करा रही महिलाओं को कद्दू का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरुर लेनी चाहिए.
  3. ज्यादा मात्रा में कद्दू का सेवन करने से पेट में गैस,कब्ज,दर्द, सूजन और ऐंठन की समस्या हो सकती है.

FAQs – Pumpkin in Hindi

क्या कद्दू गर्म होता है?

कद्दू की तासीर गर्म होती है जो आपको कफ इंफेक्शइन से बचने में मदद करती हैं.

कद्दू के क्या क्या फायदे होते हैं?

कद्दू खाने के से कई रोग दूर होते हैं जैसे एनीमिया,रक्तचाप,गठिया रोग और मधुमेह नियत्रित.

कद्दू खाने से क्या नुकसान होता है?

ज्यादा मात्रा में कद्दू खाने से पेट दर्द,कब्ज और एलर्जी की समस्या हो सकती है.

क्या कद्दू को रोजाना खा सकते हैं?

हाँ, सही मात्रा में कद्दू को रोजाना खा सकते हैं.

कद्दू के बीज खाने का तरीका क्या है?

आप कद्दू के बीज को ऐसे या भून कर खा सकते हैं. इसके अलावा इसके बीज को पीसकर सलाद और व्यंजनों में मिलाकर खा सकते हैं.

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है आपको यह पोस्ट कद्दू के बीज खाने के फायदे (Pumpkin Seeds in Hindi) जरुर पसंद आया होगा. यदि आपके मन में कद्दू के बीज से जुड़े कोई सवाल या सुझाव है तो नीचे कमेंट कर सकते हैं. इसके अलावा इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर भी शेयर करें जिसे अन्य लोगो को कद्दू के बीज खाने का सही तरीका मालुम होगा.

अन्य पढ़ें –

About Vijay Singraul

नमस्कार दोस्तों, मैं HindiMePost का Chief Author और Founder हूँ. मुझे Blogging और Technology से जुडी जानकारियां पढने और दूसरों के साथ शेयर करने में अच्छा लगता है. आप भी इस ब्लॉग से जुड़े और रोजाना कुछ नया सीखें.
Instagram

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *