चक्र फूल के फायदे, उपयोग और नुकसान | Star Anise in Hindi

Star Anise in Hindi – खाना बनाने में कई प्रकार के मसाले का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन स्वादिष्ट भोजन में मसाले का बहुत बड़ा योगदान होता है। वैसे तो आप कई प्रकार के मसालों का इस्तेमाल करते होंगे लेकिन आज हम जिस मसाले की बात कर कर रहे इससे पहले शायद ही नाम सुना हो। जी हाँ हम बात कर रहे हैं चक्र फूल (Star anise) की जिसका इस्तेमाल मसाले के रूप में किया जाता है।

चक्र फूल स्वस्थ्य के लिहाज बहुत फायदेमंद होता है साथ ही इसके उपयोग से कई प्रकार की शारीरिक समस्याओं को ठीक किया जा सकता है। आज के इस पोस्ट में हम विस्तार से जानेंगे कि चक्र फूल क्या है इसके फायदे और इसका इस्तेमाल कैसे करें।

चक्र फूल क्या है (What is Star Anise in Hindi)

star anise in hindi

चक्र फूल देखने में स्टार जैसा होता है इसलिए अंग्रेजी में इसे Star Anise कहते हैं। चक्रफूल को खास किस्म की जड़ी-बूटियों की श्रेणी में रखा गया है। इसका इस्तेमाल अक्सर खाना पकने के बाद में गरम मसाले के रूप में किया जाता है।

चक्र फूल एक सदाबहार पौधा होता है। इसकी शाखाएं सीधी और हरे रंग की होती है। इसके फूल कई रंग के होते हैं जैसे सफ़ेद, गुलाबी, लाल और हल्का पीला। इसके फल सितारे के सामान भूरे रंग के होते हैं। चक्र फूल का स्वाद सौंफ और मुलेठी जैसा होता है।

चक्र फूल का उत्पादन सबसे पहले चीन मे किया गया था इसलिए इसे China Star Anise के नाम से भी जाना जाता है। आज के समय में इसका उत्पादन फिलीपींस, वियतनाम, कंबोडिया, भारत और अन्य कई देशों में किया जाता है।

चक्र फूल के फायदे – Benefits of Star Anise in Hindi

चक्र फूल स्वस्थ शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसके औषधीय गुण शरीर की कई प्रकार की समस्याओं से बचाने में मदद करते हैं। तो चलिए जानते हैं कि चक्र फूल के अनोखे फायदे कौन-कौन से होते हैं।

1.) चक्र फूल के फायदे बेहतर पाचन क्रिया में

पाचन क्रिया ख़राब होने से मानसिक और शारीरिक संतुलन बिगड़ जाता है। पाचन तंत्र बिगड़ने से हमें कई सारी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है जैसे कब्ज, गैस, पेट का फूलना, पेट में सूजन, पेट में दर्द, खट्टी डाकरें आदि।

चक्र फूल एक ऐसा औषधीय मसाला है जो पाचन तंत्र को मजबूत और शक्तिशाली बनाने में मदद करता हैं। चक्र फूल शिशु और व्यसक दोनों के पेट के लिये बहुत फायदेमंद होता है। चक्र फूल को दूध या पानी के साथ उबालकर सेवन किया जा सकता है।

(और पढ़ें – सुबह उठते ही पेट साफ होने के उपाय)

2.) चक्र फूल के लाभ फ़्लू को रोंकने में

आजकल दिन प्रतिदिन हमारा वातावरण प्रदूषित होता जा रहा है जिससे कारण कई तरह की बीमारियाँ होने का खतरा रहता है। फ्लू एक प्रकार का संक्रमण होता है जो किसी को भी हो सकता हैं।

फ्लू जैसी बिमारियों से बचने के लिए आप चक्र फूल का इस्तेमाल कर सकते हैं। फूल चक्र मे शिकिमिक एसिड नामक रसायन मौजूद होता है जो एक प्रकार का शक्तिशाली एंटीवायरल है। ये रसायन बैक्ट्रिया संक्रमण और फ्लू जैसी बिमारियों से बचाने में मदद करता है।

3.) चक्र फूल के फायदे कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण में

हमारे शरीर में दो प्रकार के कोलेस्ट्रॉल पाए जाते है। LDL कोलेस्ट्रॉल और HDL कोलेस्ट्रॉल। LDL कोलेस्ट्रॉल हमारे शरीर के लिए हानिकारक माना जाता है तो दूसरी तरफ HDL कोलेस्ट्रॉल हमारे शरीर के लिए अच्छा माना जाता है।

शरीर में LDL कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से ह्रदय, मस्तिष्क, किडनी आदि पर बुरा असर पड़ता है। इसके साथ ही अन्य कई प्रकार के गंभीर रोग होने का खतरा रहता है। चक्र फूल में कई प्रकार के गुणकारी तत्व पाए जाते हैं जो कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

(और पढ़ें – कोलेस्ट्रॉल कम करने का रामबाण इलाज)

4.) चक्र फूल करे दाँतों का पीलापन दूर

दाँतों का पीलापन होना एक आम समस्या है। लेकिन इसके चलते व्यक्ति को लोगो के सामने शर्मिन्दगी महसूस होती है। दाँतों का पीलापन होने से व्यक्ति खुलकर बात करने और हसने से भी शर्माता है। कई लोग दाँतों का पीलापन हटाने के लिए कई उपाय करते हैं लेकिन फिर भी अपने दांतों को चमकाने में पूरी तरह सफलता नहीं मिलती हैं।

आपको बता दें दाँतों का पीलापन दूर करने के लिए चक्र फूल बेहद लाभकारी माना जाता है। इसके लिए सूखे नींबू के छिलका और संतरा के सूखे छिलका को बराबर मात्रा में पीसकर पाउडर बना लें। अब इस पाउडर में चक्र फूल का पाउडर मिलाकर दिन में दो या तीन बार मंजन करने से दाँतों का पीलापन दूर हो जाता है।

5.) चक्र फूल के गुण करें हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित

आज के समय में ज्यातर लोग ब्लड प्रेशर की समस्या से जूझ रहे हैं। आपको बता दे कि ब्लड प्रेशर बढ़ना या कम होना दोनों शरीर के लिए नुकसानदायक होते हैं। स्वस्थ शरीर के लिए ब्लड प्रेशर भी नियंत्रित होना चाहिए।

अगर आप हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से परेशान हैं तो इसे नियंत्रित करने के लिए चक्र फूल का इस्तेमाल कर सकते हैं। दरसल फूल चक्र में शक्तिशाली एंटी-इन्फ्लेमेटरी और एंटीस्पास्मोडिक गुण पाया जाता है जिसका इस्तेमाल चाय के रूप में कर सकते हैं।

(और पढ़ें – ब्लड प्रेशर को जड़ से खत्म करने का उपाय)

6.) चक्र फूल के फायदे हृदय रोग में

ह्रदय हमारे शरीर एक मत्वपूर्ण अंग होता हैं जिसको स्वस्थ रखना बहुत जरुरी है। आजकल ह्रदय से सम्बंधित रोग अधिक देखने को मिल रहे हैं जिसके कारण दिल में छेद, दिल का दौरा या हार्ट अटैक जैसे गंभीर बीमारियाँ होने का खतरा रहता है।

ह्रदय रोग होने के कई कारण हो सकते हैं जैसे गलत खान पान, अनियमित दिनचर्या, अधिक वजन का होना, धूम्रपान करना, व्यायाम नहीं करना, अत्यधिक तनाव में रहना, ह्रदय धमनी में कोलस्ट्रोल का जमना आदि। ह्रदय से संबंधित रोगों से बचने के लिए चक्र फूल का सेवन बेहद फायदेमंद रहता है।

7.) चक्र फूल है लाभकारी अच्छी नींद के लिए

रोजाना हर व्यक्ति को कम से कम आठ घंटे की नींद जरूर लेना चाहिए है। जब व्यक्ति को सही तरीके से नींद नहीं आती है तो उसे अनिद्रा रोग कहा जाता है। अनिद्रा की बीमारी से आजकल कई लोग जूझ रहें हैं जिन्हें चैन से नींद नहीं आती है। अनिद्रा के कारण मानसिक रोग के साथ-साथ शारीरिक रोग भी होने का खतरा रहता है।

अनिद्रा की समस्या से निजात पाने के लिए चक्र फूल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आप सोने से पहले इसे दूध में मिलाकर पी सकते हैं।

(और पढ़ें – नींद आने का रामबाण उपाय)

8.) चक्र फूल के तेल के फायदे मस्तिष्क के लिए

आजकल की भागदौड़ भरी में लोग न गलत खानपान और अनियमित दिनचर्या को अपनाते हैं जिसकी वजह से व्यक्ति मानसिक तनाव और भूलने की बीमारी हो जाती है। प्रत्येक व्यक्ति को अपने मस्तिष्क का सही ख्याल रखना चाहिए।

मस्तिष्क को स्वस्थ रखने के लिए आप चक्र फूल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए रोज सुबह-शाम चक्र फूल के तेल से सिर की मालिश करें। इससे आपके मस्तिष्क को शांति और ठंडक मिलेगी।

9.) चक्र फूल दिलाये सर्दी-जुकाम से राहत

सर्दी जुकाम एक आम समस्या है जिसे आसानी से ठीक किया जा सकता है। लेकिन कई बार सर्दी जुकाम की समस्या इतनी ज्यादा बढ़ जाती है कि इससे हमें कई महीनों तक जूझना पड़ता है।

आपको बता दें कि चक्र फूल एक ऐसी दिव्य ओषधि है जिसका इस्तेमाल करके आप सर्दी जुकाम को ठीक कर सकते हैं। दरसल चक्र फूल में थाइमो और एथोल नामक तत्व मौजूद होते हैं जो सर्दी जुकाम और गले की खराश को ठीक करने में फायदेमंद होते हैं। इसके लिए आप चक्र फूल से बनी चाय पी सकते है।

(और पढ़ें – सर्दी जुकाम की आयुर्वेदिक दवा)

10.) चक्र फूल करे मुँह की दुर्गन्ध को दूर

मुँह में दुर्गन्ध आना एक आम समस्या है जो किसी भी उम्र के लोगो में हो सकती है। लेकिन मुँह से दुर्गन्ध आने से स्वयं के साथ दूसरों के सामने भी शर्मिंदगी महसूस करता है। जिस वजह से उसकादिमागी संतुलन बिगड़ने लगता है। इसलिए इसलिए इस समास्या का इलाज जल्द से जल्द करना चाहिए है।

चक्र फूल में माइक्रोबियल, एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट तत्व मौजूद होते हैं जो मुँह की दुर्गन्ध से निजात दिलाने में आपकी मदद कर सकते हैं। इसके लिए 1 गिलास गुनगुन पानी में चम्मच चक्र फूल,1/4 चम्मच हल्दी और 1/4 चम्मच नमक और 1 का पाउडर डालकर अच्छी तरह मिला ले। अब इस पानी से कुल्ला करने से मुँह की दुर्गन्ध दूर हो जाती है।

चक्र फूल का उपयोग – Uses of Star Anise in Hindi

आमतौर चक्र फूल का इस्तेमाल लोग के गरम मसाले के रूप में करते हैं। लेकिन आपको बता दें कि चक्र फूल का इस्तेमाल आप कई तरीको से कर सकते हैं। तो चलिए जानते हैं चक्र फूल का उपयोग किन-किन तरीकों से कर सकते है।

  1. चक्र फूल की चाय बनाकर पी सकते है।
  2. चक्र फूल का उपयोग सूप में किया जा सकता है।
  3. मिठाई का स्वाद बढ़ाने के लिए आप इसका का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  4. जैम और सूखे पाउडर के रूप में चक्र फूल का इस्तेमाल कर सकते है।
  5. चक्र फूल का पेस्ट बनाकर त्वचा पर इस्तेमाल कर सकते है।

चक्र फूल के नुकसान – Side Effects of Star Anise in Hindi

चक्र फूल सेहत के लिए बहुत गुणकारी है। लेकिन गलत या असंतुलित मात्रा में सेवन करने से कई नुकसान उठाने पड़ सकते हैं। तो चलिए जानते है कि चक्र फूल के नुकसान क्या-क्या हो सकते हैं।

  1. चक्र फूल का ज्यादा सेवन करने से पेट और गले में जलन की समस्या हो सकती है।
  2. अत्यधिक मात्रा में चक्र फूल का सेवन करने से उल्टी और दस्त की समस्या हो सकती है।
  3. गर्भवती महिलाओं को चक्र फूल का इस्तेमाल करने से पहले किसी डॉक्टर की परामर्श जरूर लेना चाहिए।
  4. अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से कुछ लोगों एलर्जी की समस्या हो सकती है।
  5. चक्र फूल का अधिक मात्रा में सेवन करने से ब्रेडीकार्डिया या हृदय की गति को सामान्य से धीमा कर सकता है।

FAQs – Star Anise in Hindi

चक्र फूल को हिंदी में क्या कहते हैं?

Star Anise को हिंदी में चक्र फूल और फूल चक्री के नाम से जाना जाता है।

चक्र फूल खाने के क्या फायदे हैं?

चक्र फूल का सेवन करने से फ़्लू,सर्दी, जुकाम, गले में खरास और खांसी की समस्या से बचा जा सकता है।

चक्र फूल की तासीर कैसी होती है?

चक्र फूल की तासीर गर्म होती है।

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है आपको यह पोस्ट चक्र फूल क्या है और इसके फायदे (Star Anise in Hindi) जरुर पसंद आया होगा. यदि आपके मन में चक्र फूल से सम्बंधित कोई सवाल या जुझाव है तो नीचे कमेंट कर सकते है. इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा सोशल मीडिया पर भी शेयर करें जिससे अन्य लोगो को भी चक्र फूल के बारे में सही जानकारी मिलेगी।

Rate this post

Leave a Comment