भारत का सबसे ऊंचा बांध कौन सा है | Bharat Ka Sabse Uncha Bandh Kaun Sa Hai

क्या आप जानते हैं कि भारत का सबसे ऊंचा बांध कौन सा है (Bharat Ka Sabse Uncha Bandh Kaun Sa Hai). भारत में आज भी बहुत सारे ऐसे क्षेत्र हैं जहाँ पर पानी की व्यवस्था पर्याप्त नहीं है। इसलिए ऐसे क्षेत्रों पर बांध बनाए जाते हैं ताकि वहाँ रहने वाले लोगो को पानी की कमी न हो।

बाँध का बनाने के लिए बहुत सारा पानी की आवश्यकता पड़ती है। इसके लिए नदी, नहर, झरना के पानी को रोककर उसे एक जगह पर इकट्ठा किया जाता है। उसके बाद इकठ्ठा किये गए पानी का इस्तेमाल कई प्रकार से किया जाता है जैसे – सिंचाई करने के लिए, पानी से बिजली बनाने में, शहरों में पानी की आपूर्ति करने में इत्यादि।

भारत मे कुल 4000 हजार से भी अधिक बांध है जिनमे अलग अलग प्रकार के बांध हैं जैसे ऊँचें, लम्बे, छोटे, बड़े आदि। आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे कि भारत का सबसे ऊंचा बांध कौन सा है

भारत का सबसे ऊंचा बांध कौन है – Bharat Ka Sabse Uncha Bandh Kaun Hai

bharat ka sabse lamba bandh kaun sa hai

भारत की सबसे ऊंचा बांध टिहरी बांध (Tehri Dam) है। यह बांध उत्तराखंड राज्य के टिहरी जिले पर स्थित है इसलिए इस बांध का नाम भी टिहरी बाँध रखा गया है। टिहरी बांध दो बड़ी नदियाँ भागीरथी और भीलंगना के संगम पर बना है।

इस बाँध का निर्माण कार्य सन 1978 में शुरू हुआ था और 2006 में पूरा किया गया। टिहरी बांध का लगभग 52 वर्ग किलोमीटर पर फैला हुआ है जिसकी ऊंचाई  260.5 मीटर या 855 फीट है और लम्बाई 575 मीटर यानी कि 1886 फीट है।

टिहरी बांध पर 1000 मेगावॉट की बिजली तैयार की जाती है। इसके अलावा इसके पानी का इस्तेमाल सिंचाई करने में,शहर में पानी पहुंचाने के लिए किया जाता है। नीचे टेबल की मदद से जानते हैं कि भारत का सबसे ऊंचा बांध कौन सा है।

बांधों के नाम राज्य बांध की ऊंचाई
तेहरी बांध उत्तराखंड 855 फीट
भाखड़ा बांध हिमाचल प्रदेश 741 फीट
सरदार सरोवर बांध गुजरात 535 फीट
नागार्जुन सागर बांध आंध्र प्रदेश 407 फीट
इंदिरा सागर बांध मध्य प्रदेश 302 फीट
हिराकुड बांध उड़ीसा 200 फीट
तुंगभद्रा बांध  कर्नाटक 162 फीट
भवानी सागर बांध तमिलनाडु 130 फीट
बाणासुर सागर बांध केरल 126 फीट
मेट्टूर बांध तमिलनाडु 120 फीट

भाखड़ा बांध – Bhakra Dam

भाखड़ा बांध भारत का दूसरा सबसे ऊंचा बांध है जो पंजाब और हिमाचल प्रदेश की सीमा के बिलासपुर जिले में सतलज नदी पर स्थित है। इस बांध की ऊंचाई लगभग 741 फीट और चौड़ाई लगभग 1,700 फीट है। इस बाँध की नीव सन 1948 रखी गई थी जो सन 1963 में पूरी हुई। यहाँ पर 1500 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जाता है।

सरदार सरोवर बांध – Sardar Sarovar Dam

सरदार सरोवर बांध भारत का तीसरा सबसे ऊंचा बांध है जो गुजरात राज्य के नवागाम जिले में नर्मदा नदी पर बना है। इस बांध के पानी का इस्तेमाल भारत के चार राज्यों गुजरात, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और राजस्थान में किया जाता है। इस बांध की ऊंचाई लगभग 535 फीट और चौड़ाई लगभग 3,970 फीट है। सरदार सरोवर बांध का निर्माण कार्य सन 1987 में शुरू हुआ था जो वर्ष 2017 में बनकर तैयार हुआ। इस बांध की मदद से  1,450 मेगावाट की बिजली का उत्पादन किया जाता है।

नागार्जुन सागर बांध – Nagarjuna Sagar Dam

नागार्जुन सागर बांध भारत का चौथा सबसे ऊंचा बांध है जो आंध्र प्रदेश राज्य के नालगोंडा और गुंटूर जिलों की सीमाओं में फैले नागार्जुन सागर कृष्णा नदी पर स्थित है। इस बांध की ऊंचाई लगभग 407 फीट और चौड़ाई लगभग 5,085 फीट है। नागार्जुन सागर बांध का निर्माण कार्य सन 1955 में शुरू हुआ था जो सन 1967 में बनकर तैयार हुआ। 132 करोड़ की लागत से बने इस बाँध पर 815.6 मेगावाट की बिजली का उत्पादन किया जाता है।

इंदिरा सागर बांध – Indira Sagar Dam

इंदिरा सागर बांध भारत का पांचवा सबसे ऊंचा बांध है जो मध्य प्रदेश राज्य के खंडवा जिले में मुंडी पर स्थित है। इस बांध की ऊंचाई लगभग 302 फीट और चौड़ाई लगभग 2142 फीट है। इंदिरा सागर बांध का निर्माण कार्य सन 1984 में शुरू हुआ था जो वर्ष 2005 में बनकर तैयार हुआ था। इस बाँध की मदद से 1000 मेगावाट की बिजली का उत्पादन किया जाता है।

हिराकुड बांध – Hirakud Dam

हिराकुड बांध भारत का छठवां सबसे ऊंचा बांध है जो उड़ीसा राज्य के महानदी पर स्थित है। इस बांध की ऊंचाई लगभग 200 फीट और लगभग 26 किमी की लंबाई है। हिराकुड बांध का निर्माण कार्य सन 1947 में शुरू हुआ था जो वर्ष 1957 में बनकर तैयार हुआ था। इस बांध का उद्घाटन 1957 में भारत के पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरूजी ने किया था। इस बाँध की मदद से 347.5 मेगावाट की बिजली का उत्पादन किया जाता है।

तुंगभद्रा बांध – Tungabhadra Dam

तुंगभद्रा बांध भारत का सातवाँ सबसे ऊंचा बांध है जो कर्नाटक राज्य में स्थित है। इस बांध की ऊंचाई लगभग 162 फीट और चौड़ाई लगभग 8,035 फीट है। तुंगभद्रा बांध का निर्माण कार्य सन 1949 में शुरू हुआ था जो वर्ष 1953 में बनकर तैयार हुआ था।

भवानी सागर बांध – Bhavani Sagar Dam

भवानी सागर बांध भारत का आठवाँ सबसे ऊंचा बांध है जो तमिलनाडु राज्य के ईरोड जिले में भवानी नदी पर स्थित है। इस बांध की ऊंचाई लगभग 130 फीट और लगभग 8 किमी की लंबाई है। भवानी सागर बांध का निर्माण कार्य सन 1948 में शुरू हुआ था। जो वर्ष 1955 में बनकर तैयार हुआ था।

बाणासुर सागर बांध – Banasura Sagar Dam

बाणासुर सागर बांध भारत का नौवा सबसे ऊंचा बांध है जो केरल राज्य में स्थित है। इस बांध की ऊंचाई लगभग 126 फीट और चौड़ाई लगभग 2,247 फीट है। बाणासुर सागर बांध से निकटतम रेलवे स्टेशन कोझी कोड है जिसकी दूरी लगभग  73 कि.मी. और कालीकट हवाई अड्डा की दूरी लगभग 86 किमी है। इस बांध का निर्माण कार्य सन 1979 में शुरू हुआ था जो साल 2004 में बनकर तैयार हुआ था।

मेट्टूर बांध – Mettur Dam

मेट्टूर बांध भारत का दसवाँ सबसे ऊंचा बांध है जो तमिलनाडु राज्य के सलेम जिले में कावेरी नदी पर स्थित है। इस बांध की ऊंचाई लगभग 120 फीट और चौड़ाई लगभग 5600 फीट है। यह भारत में निर्मित सबसे पुराना बांध है जिसकी स्थापना सन 1934 में हुई थी।

FAQs – Bharat Ka Sabse Uncha Bandh

भारत का सबसे ऊंचा बांध कौन सा है?

भारत का सबसे ऊंचा तेहरी बांध है जो उत्तराखंड राज्य के तेहरी शहर में भागीरथी नदी पर स्थित है। तेहरी बांध की ऊंचाई लगभग 855 फीट है।

विश्व का सबसे ऊंचा बांध कौन सा है?

विश्व का सबसे ऊंचा बांध न्युरेक बांध है जो ताजिकिस्तान देश के वख्श नदी पर स्थित है। न्युरेक बांध ऊंचाई लगभग 980 फीट है जो इसे दुनिया का सबसे उंचा बांध बनाती है।

विश्व का सबसे बड़ा बांध कौन सा है?

विश्व का सबसे बड़ा बाँध थ्री गोर्जेस डैम
जो चीन में स्थित है। इस बांध की लम्बाई 2.3 किलोमीटर और चौड़ाई 115 मीटर है।

एशिया का सबसे बड़ा बांध कौन सा है?

एशिया का सबसे बड़ा बांध तेहरी बांध है। इस बांध की ऊंचाई लगभग 857 फीट (260.5 मीटर) और लंबाई 575 मीटर है।

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है आपको यह पोस्ट भारत का सबसे ऊंचा बांध कौन सा है (Bharat Ka Sabse Uncha Bandh Kaun Sa Hai) जरुर पसंद आई होगी। अब आप जान गए होंगे कि भारत का सबसे ऊंचा तेहरी बांध है। इसके अलावा हमने टॉप 10 भारत का सबसे ऊंचे बांध के बारे में बताया है। यदि आपके मन में इस पोस्ट से जुड़े कोई सवाल या सुझाव है तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेन्ट करें।

अन्य पढ़ें –

About Editorial Staff

Hindi Me Post पर आपको कंप्यूटर, टेक्नोलॉजी, डिजिटल मार्केटिंग और ऑनलाइन पैसे कमाने की जानकारी शेयर की जाती है. हमारा मकसद है हम एक दम सरल भाषा आपको जानकरी दें. Facebook | Instagram | Twitter

Leave a Comment